PUBG: गेम न खेल पाने के कारण बच्चे ने आत्महत्या कर लिया

0
38

ऑनलाइन गेम(PUBG) के नुक्सान का नया किस्सा है हैदराबाद के 10वीं कक्षा में पढ़ने वाले एक छात्र का जिसने गेम न खेल पाने के कारण आत्महत्या कर ली । छात्र ने PUBLIC UNKNOWN BATTLE GROUND (PUBG)खेलने पर डांटे जाने के बाद आत्महत्या कर ली। पुलिस ने बुधवार को बताया कि इस 16 वर्षीय छात्र को ऑनलाइन गेम प्लेयर्स अननॉन बैटलग्राउंड्स (पबजी) की लत लगी हुई थी। वह अपने माता-पिता के फोन पर यह गेम खेलता था।      

PUBG: इस गेम से हो रहा है बच्चो को नुक्सान,क्या आपका बच्चा भी है इस लत का शिकार
PUBG: इस गेम से हो रहा है बच्चो को नुक्सान,क्या आपका बच्चा भी है इस लत का शिकार

PUBG:तौलिये के सहारे छत के पंखे से लटककर फांसी लगा ली

मल्कानगिरी थाने के निरीक्षक के संजीव रेड्डी ने बताया कि छात्र की 10वीं की परीक्षा चल रही थी जिसकी वजह से उसकी मां ने सोमवार को यह गेम खेलने की वजह से उसे डांटा था। इसके बाद छात्र ने अपने कमरे में जाकर दरवाजा बंद कर लिया और एक तौलिये के सहारे छत के पंखे से लटककर फांसी लगा ली। 

उन्होंने बताया कि काफी देर तक दरवाजा खटखटाने के बाद भी जब दरवाजा नहीं खुला तो उसके अभिभावकों ने दरवाजा तोड़ दिया और उसे फंदे से लटका पाया। छात्र को अस्पताल ले जाया गया लेकिन डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। छात्र के पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।

PUBG:इन घटनाओं को देखते हुए गेम में किया गया सुधार

पब्जी गेम (PUBG)का निर्माण करने वाली कंपनी टेनसेंट ने पब्जी गेम कुछ नए फीचर जुड़े हैं । जिससे आप दिन में अधिकतम 4 बार  इस गेम को खेल सकते हैं । यह कदम इसलिए उठाया गया क्योंकि इसको खेलने वाले दीवानों की तरह इसमें दिनभर लगे रहते थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here