BIGGBOSS में Shreesant ने थप्पड़ कांड से उठाया पर्दा, बोले-‘ मैं चाहता तो वही…’

1
18

BIGGBOSS-12 के इस सीजन में श्रीसंत एक सबसे मजबूत कंटेस्टेन्ट बन गए है। BIGGBOSS में किसी न किसी कारण वो हर हफ्ते highlite में रहते है।वह अपने इमोशनल कार्ड व माइंड गेम के लिए पहचाने जा रहे हैं। इस बार भी वे कुछ इसी तरह का बयान बिगबॉस के घर में दिया है। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी श्रीसंत ने साल 2008 में आईपीएल के दौरान स्पिनर हरभजन सिंह संग हुए थप्पड़ कांड के बारे में खुलासा किया है ।

BIGGBOSS में Shreesant ने थप्पड़ कांड से उठाया पर्दा, बोले-' मैं चाहता तो वही...'
BIGGBOSS में Shreesant ने थप्पड़ कांड से उठाया पर्दा, बोले-‘ मैं चाहता तो वही…’

UGC NET का admit card हुआ जारी ,जाने कैसे करे डाउनलोड ???

BB-12: सलमान खान पर भड़की टीजे सिंधू,खुले खत में दिखा उनका गुस्सा

BIGGBOSS: सुरभि ने आईपीएल के दौरान हुए थप्पड़ कांड के बारे में पूछा

इस हफ्ते होने वाले captaincy task में घर की सदस्य सुरभी राणा संवाददाता बनकर घर के अन्य कंटेस्टेंट से Breaking news निकलवाने की कोशिश की। जब नंबर श्री का आया तो उन्होंने श्री से आईपीएल के दौरान हुए थप्पड़ कांड के बारे में पूछा। हरभजन सिंह के साथ हुए थप्पड़ विवाद के बारे में श्रीसंत ने पूरी बात बताई।

BIGGBOSS:श्रीसंत ने कहा कि मैं सबका मुंह बंद करना चाहता हूं

सुरभी राणा ने श्रीसंत से सवाल पूछा, ”वो जो थप्पड़ वाली घटना हुई थी, तो उसमें सच में हुआ क्या था?’ इस सवाल पर श्रीसंत ने जवाब दिया, ‘मैं हमेशा भरोसा करता हूं कि अगर कुछ करना है तो अपने मेहनत, भगवान की कृपा और माता-पिता के आशीर्वाद से किया जा सकता है। बहुत लोगों को पता नहीं है ,मैं सबका मुंह बंद करना चाहता हूं। मैं इस बिग बॉस हाउस की अपॉर्च्युनिटी यूज करना चाहता हूं और आपको बताना चाहता हूं कि यह हाई टाइम है जब मुझे सच बोलना ही पड़ेगा ।

BIGGBOSS:श्रीसंत ने कहा कि मैं सबका मुंह बंद करना चाहता हूं
BIGGBOSS:श्रीसंत ने कहा कि मैं सबका मुंह बंद करना चाहता हूं

SSC MTS: 8300 पदों पर होगी भर्तियां,जाने कैसे करे आवेदन?

whatsapp ने अपने फीचर में क्या बदलाव किये है जाने

BIGGBOSS: अगर मैं चाहता तो उनको वहीं दबा देता

श्रीसंत ने आगे कहा, मुझे अभी भी याद है कि 2008 में जब मुंबई इंडियंस वर्सेज किंग्स इलेवन पंजाब के बीच चंडीगढ़ में मैच हुआ तो मेरी गलती यह थी कि मैंने थोड़ा सीरियस ले लिया। मैं बेहद ज्यादा एग्रेसिव हो गया था। मैच के बाद यह खत्म हो गया। सच में क्या हुआ जो वीडियो में नहीं देखा होगा मैं बताना चाहूंगा कि मैदान में जब मैं हाथ मिलाने आया तो मैंने कहा हार्ड लक भज्जी, तो उन्होंने मेरे ऊपर बाए हाथ से चेहरे पर हाथ उठाया, थप्पड़ नहीं मारा । अगर मैं चाहता तो उनको वहीं दबा देता। अगर ये आदमी पूरे गुस्से में ऐसा हरकत कर सकता है तो आप क्या करेंगे। इस वजह से उस समय मैं हेल्पलेस था। उस हेल्पलेस में मैं रोया।

इन्हें भी पढ़े:-

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here